Latest News News Political-News Udaipur

प्रदेश के सर्वांगीण विकास के लिए तत्पर है मुख्यमंत्री।

प्रदेश के सर्वांगीण विकास के लिए तत्पर है मुख्यमंत्री

उदयपुर, 14 मई(कासं)। प्रदेश के मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने प्रदेशवासियों के सर्वहित को ध्यान में रखते हुए जो कल्याणकारी योजनाएं एवं फ्लैगशिप कार्यक्रम संचालित किये है, वे देश के अन्य राज्यों द्वारा अनुकरण करने योग्य है। मुख्यमंत्री गहलोत के नेतृत्व वाली इस सरकार ने हर तबके को ध्यान में रखते हुए विकास के नये आयाम स्थापित किये है। यह विचार जिला प्रभारी मंत्री रामलाल जाट ने शुक्रवार को जिला परिषद सभागार में उदयपुर के मीडिया प्रतिनिधियों के साथ आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान रखे।
साकार हो रहा निरोगी राजस्थान का संकल्प:
उन्होंने कहा कि आज निरोगी राजस्थान की संकल्पना को साकार करने के लिए राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का संचालन कर प्रदेशवासियों को हर बीमारी से लड़ने व बचाव के लिए सुरक्षा कवच प्रदान किया है वहीं ओपीडी-आईपीडी सेवा को निःशुल्क कर लोगों को राहत प्रदान की है। डायलिसिस, एमआरआई सहित अन्य कई जांच निःशुल्क कर दी है। उन्होंने कहा कि शेष रहे परिवारों को जोड़ने के प्रभावी प्रयास किए जा रहे ताकि प्रदेश के हर व्यक्ति को निःशुल्क इलाज मुहैया कराया जा सके। उन्होंने कहा कि राजस्थान की तर्ज पर देश अन्य राज्यों में भी इस प्रकार की योजनाओं को लागू किया जाना चाहिए, जिससे हमारा हिन्दुस्तान स्वस्थ हो।
सेवा ही कर्म है, सेवा ही धर्म है:
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का ‘सेवा ही कर्म है सेवा ही धर्म है, यह सिर्फ स्लोगन ही नहीं था अपितु इसी को ध्यान में रखते हुए प्रदेश के चहुंमुखी विकास के लिए मुख्यमंत्री ने जो बजट जारी किया उन्हीं बजट घोषणाओं की समीक्षा लगातार कर क्रियान्वयन के माध्यम से लोगों को राहत दी जा रही है।
5 लाख परिवारों के बिजली बिल हुए शून्य:
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने हर वर्ग को बिजली कनेक्शन में सब्सिडी प्रदान करते हुए राहत प्रदान की है। जिले में 6 लाख 77 हजार किसानों के बिजली के कनेक्शन किये गये जिनमें 5 लाख परिवारों के बिल शून्य हो गये। इसमें 98 हजार परिवार के 50 प्रतिशत बिल एवं सक्षम परिवारों को 30 से 35 प्रतिशत की सब्सिडी प्रदान की गई। राज्य सरकार द्वारा किसान वर्ग का विशेष ध्यान रखा गया है, किसी किसान का ट्रांसफॉर्मर जल जाने, चोरी हो जाने आदि की स्थिति पर किसान को विभाग की व्यवस्था पर 72 घंटे के भीतर ट्रांसफॉर्मर उपलब्ध कराया जा रहा है।
खाद्यान्न वितरण की प्रभावी व्यवस्था:
प्रदेश में खाद्यान्न वितरण व्यवस्था को प्रभावी बनाते हुए हर जरूरमंद व्यक्ति को नियमानुसार खाद्यान्न उपलब्ध करवाया जा रहा है। 11 लाख लोग 1 रुपये किलो गेहूं प्राप्त कर लाभान्वित हो रहे है एनएफएसए में 10 लाख लोगों को नये जोड़ने की घोषणा मुख्यमंत्री ने इस बजट घोषणा में की है और इसके लिए आज ही  पोर्टल खोल दिया गया है और ई-मित्र के माध्यम से काफी लोग जुड़ रहे है।
पेंशन से मिल रही लोगों को राहत:
उन्होंने कहा कि पेंशनर्स को राहत देने की दृष्टि से पेंशन स्कीम को प्रभावी बनाते हुए एकल नारी पेंशन, वृद्धावस्था पेंशन, विधवा पेंशन, पालनहार आदि में सरकार ने बढ़ोतरी की है एवं इसकी प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी है ताकि आवेदक को पारदर्शिता के साथ समय पर इसका लाभ मिले।
औद्योगिक जगत को भी मिला संबलः
प्रभारी मंत्री ने कहा कि सरकार ने औद्योगिक विकास को बढ़ावा देते हुए विभिन्न योजनाएं संचालित की है। इससे रोजगार के नए अवसर उपलब्ध कराते हुए संबल प्रदान किया जा रहा है। विभिन्न औद्योगिक समस्याओं का समाधान करते हुए राहत प्रदान की गई। सभी माध्यमिक विद्यालय उच्च माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत किये गये है। महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय की स्थापना करते हुए शिक्षा को नई दिशा प्रदान की है। राजकीय विद्यालय में शिक्षा का सुदृढ़ीकरण हुआ है और तकनीकी नवाचारों के साथ शिक्षा के क्षेत्र में नये आयाम स्थापित किये जा रहे है।
काश्तकारों को मिल रहा अपूर्व लाभः
कृषि के माध्यम से प्रसंस्करण, लघु व्यवसाय को प्रोत्साहन एवं सब्सिडी के प्रावधानों से कृषक वर्ग को लाभान्वित किया जा रहा है। दुग्ध उत्पादों को बढावा देने, कृषक एवं पशुपालक को उसके उत्पाद का उचित मूल्य प्रदान करने के लिए भी हमारी सरकार प्रतिबद्ध है।
खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहन:
खेल सुविधाओं को बढ़ावा देते हुए खेल प्रतिभाओं को उपयुक्त मंच उपलब्ध कराने के लिए सरकार लगातार प्रयासरत है। सरकार की ओर से खेल प्रतिभाओं को सतत प्रोत्साहित किया जा रहा है एवं विभिन्न अवसर उपलब्ध कराए जा रहे है। आज ग्रामीण प्रतिभाओं को खेल में निखारने के लिए सरकार ने नौकरी में 2 प्रतिशत का प्रावधान किया गया है।
ऑनलाइन सुविधाओं से पारदर्शी हुआ तंत्र:
उन्होंने कहा कि सूचना एवं प्रौद्योगिकी संचार के माध्यम से कई प्रक्रियाओं को ऑनलाइन करते हुए सरकारी तंत्र में पारदर्शिता लाई गई है। राजस्व विभाग के कई कार्य ऑनलाइन कर दिये गये है इससे हर व्यक्ति के राजस्व संबंधी कार्य आसानी से करते हुए उन्हें त्वरित राहत प्रदान की जा रही है। उन्होंने बताया कि घर-घर औषधि योजना के माध्यम से आमजन को आयुर्वेद के प्रति जागरूक करने एवं स्वस्थ व सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराने के लिए हम प्रतिबद्ध है।

इस अवसर पर वल्लभनगर विधायक  प्रीति गजेन्द्रसिंह शक्तावत, जिला प्रभारी सचिव आनंद कुमार, जिला कलक्टर ताराचंद मीणा व जिला परिषद सीईओ मयंक मनीष, गांधी दर्शन समिति के संयोजक व समाजसेवी पंकज शर्मा उपस्थित थे।

Advertisement

About the author

News27

भरत मिश्रा
(क्राइम रिपोर्टर)न्यूज़27 चैनल
एवं
जिला महासचिव
जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ राजस्थान(जार)

Add Comment

Click here to post a comment

http://news27.co

%d bloggers like this: